God shayari in hindi | anmol vachan ,prerak vichar

ईश्वर पर अनमोल शायरी
 
 
ईश्वर पर आप तभी विश्वास कर सकते हैं,
जब आपको खुद पर विश्वास हो क्योकि
ईश्वर बाहर नही हमारे अंदर ही हैं
GOD SHAYARI IN HINDI ANMOL VACHAN
anmol vachan 
 
 
कामयाबी के दरवाजे उन्हीं के लिए खुलते हैं,
जो उन्हें खटखटाने की ताकत रखते हैं…
 
 
मुझे अपने आप में कुछ यु बसा लो,
के ना रहू जुदा तुमसे और खुद से तुम हो जाऊ!
 
 
मैं “किसी से” बेहतर करुं क्या फर्क पड़ता है..!
मै “किसी का” बेहतर करूं बहुत फर्क पड़ता है..!
 
 
कहने की जरूरत नही, आना ही बहुत हैं,
शिव भक्ति में तेरा शीश झुकाना ही बहुत हैं!
 
 
जब ईश्वर मनुष्य की परीक्षा लेते हैं,
तब वो मनुष्य का सामर्थ्य भी बढ़ा देते हैं,
ताकि वो अधिक बुद्धिमान और अधिक ताकतवर बनें!
 
 
श्रद्धा का मतलब हैं आत्मविश्वास,
और आत्मविश्वास का मतलब हैं ईश्वर में विश्वास!
 
 
भगवान बोलते है…
तू करता वही है, जो तू चाहता है!
पर होता वही है जो मैं चाहता हूँ,
तू वही कर जो मैं चाहता हूँ,
फिर होगा वही जो तू चाहता है…!
 
 
हे प्रभु! मेरी प्रार्थना को ऐसे स्वीकार करो,
की जब-जब मेरा सिर झुके,
मुझसे जुड़े हर इंसान की जिंदगी सँवर जाए!
 
 
तेरा हाथ सिर पे होने से
मेरे सब काम साकार होते हैं,
मैं जहाँ भी देखता हूँ तुझे मेरे मोहन
मुझे तो बस तेरे दीदार होते हैं।
 
 
शायद मेरे पास सब कुछ नहीं
पर ईश्वर ने मुझे वो सब दिया है,
जिसकी मुझे जरुरत है।
मैं इसके लिए ईश्वर का आभारी हूँ।
 
 
उसके होते हुए तू क्यों परेशान है,
भगवान के चरणों में तो हर समस्या का समाधान है।
 
 
हे मालिक! मेरी गुमराहियों,
मेरे दोष देखकर उन्हें अनदेखा कर देना,
क्यूंकि मैं जिस माहौल में रहता हूँ उसका नाम दुनिया है..
 
 
कर्म भूमि पर फल के लिए
श्रम तो सभी को करना ही पड़ता है,
भगवान सिर्फ लकीरें देता है,
रंग तो हमें ही भरना पड़ता है!!
 
 
सच्चा प्रेम और भगवान एक जैसे ही होते हैं
जिसके बारें में बातें सब करते हैं
लेकिन महसूस बहुत कम ही लोग करते हैं
 
 
वो तो सदा सबका है,
कभी तू भी उसका बन कर देख,
बनेंगे तेरे बिगड़े काम
राम नाम तू जप कर देख।
 
 
मेरे और भगवान के बीच में बहुत ही ख़ूबसूरत रिश्ता हैं,
मैं ज्यादा माँगता नही और वे कम देते नही हैं!
 
 
जो मनुष्य जीवन में सत्य के मार्ग पर चलता हैं,
उसका सफ़र ईश्वर के पास आकर ही समाप्त होता हैं!
 
 
देवो के देव, महादेव आपसे हैं विनती,
मेरी भी हो, आपके ख़ास भक्तों में गिनती!!
 
 
मेरे जिस्म जान में भोलेनाथ नाम तुम्हारा है,
आज अगर मैं खुश हूँ तो यह एहसान भी तुम्हारा है,
थामा हुआ है हाथ मेरा आपने मुझको मालूम है,
मेरे हर पल हर लम्हे में मेरे भोलेनाथ प्यार तुम्हारा है!
 
 
यह जीवन ईश्वर का अमूल्‍य उपहार है,
इसे व्‍यर्थ न गंवाओ…
 
 
जिसका मन सच्चा और कर्म अच्छा हैं,
वही भगवान का सच्चा भक्त हैं
और ऐसे लोगो पर ईश्वर की कृपा हमेशा बनी रहती हैं
 
 
यदि आपके पास सिर्फ भगवान हैं
तो आपके पास वह सब हैं
जो आपको चाहिए!
 
 
मैं और मेरा‬ ‪शिवा‬ दोनो ही बङे ‪भुलक्कङ‬ है,
वो मेरी गलतियां‬ भूल जाते है और मै उनकी मेहरबानियों को!
 
 
नियत अच्छी हो तो, भक्ति भी सच्ची होती हैं,
भगवान हर हृदय में हैं, घरों में रखने की जरूरत नही होती हैं
 
 
मंज़िले मुझे छोड़ गयी,
रास्ते ने पाल लिया है,
जा ज़िंदगी तेरी ज़रूरत नहीं
मुझे ठाकुर ने संभाल लिया है
 
 
प्रभु के सामने जो झुकता है,
वह सबको अच्छा लगता है,
लेकिन जो सबके सामने झुकता है,
वह प्रभु को भी अच्छा लगता है।
 
 
वो तैराक भी डूब जाते हैं जिनको ख़ुद पर गुमान होता हैं
और वो गँवार भी डूबते-डूबते पार हो जाते हैं,
जिन पर भगवान मेहरबान होते हैं!
 
 
ईश्वर से कुछ मागने पर न मिले तो नाराज न होना।
क्योकि, ईश्वर वह नहीं देता जो आपको अच्छा लगता है,
बल्कि वह देता जो आपके लिए अच्छा होता है!!
 
god चित्र में नहीं, चरित्र में बसता है,
अपनी आत्‍मा को मंदिर बनाओ…!
 
 
ना पैसा लगता हैं ना ख़र्चा लगता हैं,
राम-राम बोलिए बड़ा अच्छा लगता हैं!!
 
 
मुझे नही पता मेरी लाइफ की स्टोरी क्या होगी,
लेकिन उसमे ये कभी नही लिखा होगा
कि “मैने हार मान ली”…!
 
 
सच्चे मन से की गई प्रार्थना ही भगवान तक पहुँचती हैं!
 
 
भगवान से कुछ मांगना ही है तो
हमेशा अपनी माँ के सपने पूरे होने की दुआ माँगना!
तुम खुद बे खुद आसमान की ऊंचाइया छु लोगे।
 
 
चलता रहा हुँ अग्निपथ पर चलता चला जाऊँगा,
श्रीराम का भक्त हुँ झुकना मैने सीखा नहीं!!
 
 
सारे बिगड़े काम बना दे सुधर जाए ये जीवन,
जिसके ऊपर कर दे कृपा बांसुरी वाला मोहन।
 
 
अगर आपकी समस्या एक जहाज जितनी बड़ी है
तो यह नही भूलना चाहिए कि भगवान की कृपा सागर जितनी विशाल हैं
 
 
 
कहते हैं जिन्‍दगी का आखरी ठिकाना,
ईश्वर का घर है, कुछ अच्‍छा कर ले मुसाफिर,
किसी के घर खाली हाथ नहीं जाते है।
 
 
ईश्वर कहते हैं उदास न हो मैं तेरे साथ हूँ…
सामने नहीं आस पास हूँ, पलकों को बंद कर
और दिल से याद कर मैं कोई और नहीं तेरा विश्वास ही हूँ।
 
 
मत करना अभिमान खुद पर ऐ इन्सान!
तेरे और मेरे जैसे कितनो को ईश्वर ने 
माटी से बनाकर माटी में मिला दिया!
 
 
मन तुलसी का दास हैं, वृन्दावन हो धाम,
साँस-साँस में राधा बसे, रोम-रोम में श्याम
 
 
कोई व्यक्ति कितना भी महान क्यों न हो,
आँखें मूंदकर उसके पीछे मत चलिए!
यदि ईश्वर की ऐसी ही मंशा होती,
तो वह हर प्राणी को आँख, नाक, कान, 
मुंह, मस्तिष्क आदि क्यों देता?
 
 
ऐ जन्नत अपनी औकात में रहना,
हम तेरी जन्नत के मोहताज नही!
हम गुरू भोलेनाथ के चरणों के वासी है,
वहाँ तेरी भी कोई औकात नही!!
 
 
आलसी लोगों के काम के लिए ही 
भगवान ने ‘कल’ का निर्माण किया है।
 
 
इस जगत में जिसे छूटना है,
उसे कोई बाँधनेवाला नहीं है।
और जिसे जगत से बंधना है,
उसे तो भगवान भी नहीं छुड़ा सकते।
 
 
यदि आप यह मानते है कि आपके अंदर ईश्वर का अंश है
तो आप किसी भी असम्भव कार्य को कर सकते हैं
 
 
बड़े नादान हैं वो लोग जो इस दौर,
में भी वफ़ा की उम्मीद करते हैं,
यहाँ तो दुआ क़बूल ना होने पर लोग,
भगवान बदल दिया करते हैं!!
 
 
जो कुछ भी मैंने खोया वह मेरी नादानी थी…
और जो कुछ भी मैंने पाया वह रब की मेहरबानी थी
 
 
हे ईश्वर मुझे अधिक लेने के लिए नहीं,
अधिक देने के योग्‍य बनाओ…!
 
 
भगवान से निराश कभी मत होना,
संसार से आशा कभी मत करना।
 
 
तू चाहे तो मेरा हर काम साकार हो जाए,
तेरी कृपा से खुशियों की बहार हो जाए,
यूँ तो कर्म मेरे भी कुछ ख़ास अच्छे नहीं,
मगर तेरी नजर पड़े तो मेरा उद्धार हो जाए।
 
 
मुझे कौन याद करेगा इस भरी दुनिया में, हे ईश्वर!
यहाँ तो बिना मतलब के तो लोग तुझे भी याद नहीं करते
 
 
जब हम गेहूँ का एक दाना बोते हैं,
तो कुछ समय पश्चात वो हमे हजार दाने के रूप में मिलता हैं,
उसी तरह हमारे अच्छे कर्मो का फल हमें ईश्वर भी देता हैं!
 
 
भगवान न दिखाई देने वाले माता-पिता है,
और माता-पिता दिखाई देने वाले भगवान है!!
 
 
कर्म में विश्वास करना, खुद पर विश्वास करना
और खुद पर विश्वास करना ईश्वर पर विश्वास करना होता हैं!
 
 
ग़ालिब ने यह कह कर तोड़ दी माला,
गिनकर क्यों नाम लूँ उसका जो बेहिसाब देता है।
 
 
मालिक पर भरोसा रख अपने गमों की नुमाइश न कर,
जो तेरा है वो चल के आएगा तेरे दर पे, रोज़ उसे पाने की ख़्वाहिश न कर।
 
 
तुझसे ही सुबह तुझसे ही शाम है,
मेरी हर धड़कन में तेरा ही नाम है,
अब सांसे भी मिलेंगी और आग भी लगेगी,
मेरा तो अब बस तू ही एक मुकाम है!
 
 
विश्वास करो…मैंने तुम्हारे लिए वही विधान किया,
जो तुम्हारे लिए उचित था…
मैंने आज तक जो कुछ किया 
तुम्हारे मंगल के लिए किया! ~कृष्णा कन्हैया!!
 
 
जब तक आप स्वयं पर विश्वास नही करते,
तब तक आप ईश्वर पर भी विश्वास नही कर सकते हैं
 
 
पूरी दुनिया में ढूढ़ने के बाद भी नही मिलता हैं,
वही माया हैं और जो
एक जगह पर बैठे ही मिल जाए वही परमात्मा हैं!
 
 
किसी व्यक्ति ने साईं से पुछा-
बाबा आप बड़े हैं फिर भी नीचे क्यूँ बैठते हैं?
साईं बाबा ने जवाब दिया-
नीचे बैठने वाला कभी गिरता नहीं हैं।
 
 
जो कुछ हैं तेरे दिल में, सब उसको ख़बर हैं,
बन्दे तेरे हर हाल पर भगवान शिव की नज़र हैं
 
 
ईश्वर हमें कभी सजा नहीं देते,
हमारे कर्म ही हमें सजा देते हैं!
 
 
धराशायी हो जाता है उसके आगे
चाहे कितना ही बड़ा महारथी हो,
उसे क्या हराएगा इस जहां में कोई
कान्हा जिसका खुद सारथी हो।
 
 
प्रार्थना भगवान का मोबाइल नंबर है,
Re-Dial करते रहो कभी तो भगवान सुनेंगे।
 
 
भगवान का भक्त होने का मतलब यह नही
कि आप कभी भी गिरेंगे नही,
पर जब आप गिरेंगे तो भगवान आपकी स्वयं थाम लेंगे!
 
 
हे भगवान, सुख देना तो बस इतना देना कि
जिसमें अहंकार न आये और दुःख देना
तो बस इतना कि जिसमें आस्था ना टूटे!
 
 
इतना सच्चा हो हमारा विश्वास,
हमारे हृदय में ”श्री राम” सदा करे वास!!
 
 
~ईश्वर का संदेश :-^
सोने से पहले तुम सब को माफ़ कर दिया करो,
तुम्हारे जागने से पहले मैं तुम्हे माफ़ कर दूंगा!!
 
 
दिखावे की दुनिया से थोड़ा दूर रहता हूँ मैं,
इसलिए शिव भक्ति में चूर रहता हूँ मैं!!
 
 
चिंतन हो सदा इस मन में तेरा,
चरणों में सदा मेरा ध्यान रहे,
चाहे दुख में रहूँ चाहे सुख में रहूँ,
होंठों पे सदा तेरा नाम रहे…!
 
 
कर्म का अधिकार मनुष्य के पास है,
लेकिन फल ईश्वर देते हैं,
इसलिए कर्म को सच्चे मन से करना चाहिए,
क्योकि मनुष्य के जीवन में उसके 
कर्मो का फल ही घटित होता हैं!!
 
 
भगवान ने हमें दो हाथ सिर्फ ‘प्रार्थना’ नही
बल्कि ‘प्रयत्न’ करने के लिए भी दिए हैं,
सिर्फ हाथों को जोड़े रखने से कुछ नही होगा,
हमें इनका उपयोग कर प्रयास करना चाहिए।

 24 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *